Plum Trees in Blossom by Camille Pissarro,

तुम्हारा दुःख और मैं – देवांश दीक्षित

तुम्हारी आँख से ढलका आँसूपृथ्वी पर गिरते ही बन

Read More
Artwork by Sunita

तुम्हारे लिए मेरा प्रेम

दृश्य है जो, वो थोड़ा-सा है अदृश्य का आसमान बहुत बड़ा होता

Read More
Edward Hopper

बचपन पकी नींद में सोता था

बचपन पकी नींद में सोता था जवानी नींद पकाने के लिए रात भर

Read More

अपवाद या सिद्धांत

अंतर्मन के बरगद से तुम्हारी स्मृतियों की टहनियाँ

Read More

अब दिन और रात पृथ्वी के घूमने से नहीं होते,⁣⁣⁣ मशीनों के घूमने से होते हैं

उद्योगपतियों ने सूरज को⁣⁣⁣ आकाश से निकालकर⁣⁣⁣ अपने

Read More

All Hindi Poems