गैलेक्सी के छोर पर खड़े होकर तुम से प्रेम करने का कारण ढूंढना तारों की गिनती करने जैसा है

पृथ्वी सौरमंडल की यात्रा पर है
सूर्य आकाशगंगा की यात्रा पर है
गैलेक्सी अनंत अंतरिक्ष की यात्रा पर है
गैलेक्सी के छोर पर खड़े होकर
तुम से प्रेम करने का कारण ढूंढना
तारों की गिनती करने जैसा है
तुमसे प्रेम ‘अकारण’ की यात्रा है